इन स्त्रियों से शादी कभी ना करे: क्या कहते है आचार्य चाणक्य

इन स्त्रियों से शादी कभी ना करे: आचार्य चाणक्य: चाणक्य के अनुसार किन स्त्रियों से शादी नहीं करनी चाहिए?

चाणक्य जी अपनी दूरदर्शिता के लिए बहुत ही विख्यात माने जाते हैं। अपनी इसी सोच के आधार पर उन्होंने किन स्त्रियों से शादी करने की मनाही की है।

आचार्य चाणक्य ने अपनी जिंदगी के सभी तरह के अनुभवों का विवरण चाणक्य नीति में दिया है। उनके द्वारा महिलाओं के व्यवहार संबंधी भी अनेक बातें उल्लेखित है। चाणक्य कोई साधारण व्यक्ति नहीं बल्कि एक शिक्षक और महान कूटनीतिज्ञ थे। इसलिए उनकी कही गई बातों को निरर्थक समझना निहायत ही गलत है। उन्होंने अपने अनुभवों के माध्यम से ही जिंदगी की कठिन से कठिन समस्याओं का भी उपाय दिया है।

यह पढ़ क्या ?

एक पिता को अपने लड़के की शादी के लिए कैसी लड़की ढूंढना चाहिए?

क्या मुझे शादी करनी चाहिए? 8000 महीने का कमाता हु

शादी करने से पहले क्या सोचना चाहिए? शादी से पहले क्या महत्वपूर्ण होता है?

शादी नहीं हो रही है तो क्या करें? जल्दी शादी के लिए उपाय बताए

क्या मुझे ऐसे लड़के के साथ शादी करनी चाहिए, जो मुझसे शादी करने के लिए दहेज माँगता हो?

आचार्य चाणक्य के अनुसार शादी के लिए किसी महिला का चयन करते समय कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए। उन्होंने स्वयं महिलाओं के व्यवहार और सोच को देखकर ही चाणक्य नीति में इस बात का उल्लेख किया है। चाणक्य ने ऐसे बहुत से संकेत दिए हैं जिन्हें देखकर आप महिला के चरित्र का अंदाजा लगा सकते हैं।

शादी के लिए क्या है महत्वपूर्ण ?

आचार्य चाणक्य जी का मानना है, कि किसी भी महिला की सुंदरता पर मोहित नहीं होना चाहिए। अपितु उनकी सही परख गुणों पर आधारित होगी। विवाह से पूर्व स्त्री के लक्षण, गुण और अवगुण जान लेना अति आवश्यक है।

वे कहते हैं कि इन सभी बातों पर विचार विमर्श करने के उपरांत ही विवाह करने का फैसला लेना चाहिए। इसलिए हम आपको जानकारी देने जा रहे हैं कि चाणक्य ने किन स्त्रियों से शादी करने से मना किया है।

बुरे संस्कारों वाली महिला

आचार्य के अनुसार पुरुषों को महिलाओं की सुंदरता पर मोहित नहीं होना चाहिए। अपितु उनकी अच्छाई का अंदाजा उनके संस्कारों के आधार पर करना ही उचित होगा। इसलिए आचार्य ने बुरे संस्कारों वाली महिला से शादी करने से मनाही की है। उनका मानना है कि ऐसी स्त्री परिवार में केवल झगड़ा ही पैदा कर सकती है। बल्कि एक संस्कारी महिला अपने घर को स्वर्ग जैसा एहसास देने में सक्षम है।

नकारात्मक विचारों वाली स्त्री

चाणक्य का मानना है कि जो महिला हमेशा नकारात्मक विचार रखती हो वह आपके परिवार को एक साथ रहने नहीं देगी। ऐसी स्त्री हमेशा ही परिवार को अलग करने में विश्वास रखती है ना कि जोड़ने में। उनके अनुसार नकारात्मक विचारों वाली स्त्री से इसलिए भी बच कर रहना चाहिए क्योंकि यह पारिवारिक सदस्यों के दुख का कारण भी बनती है।

धन संबंधी लालसा

वैसे तो लालच करना हर किसी के लिए एक बुरी आदत है फिर चाहे वह स्त्री हो या पुरुष। परंतु चाणक्य के अनुसार जो स्त्री हर समय धन को पाने की इच्छा रखती हो वह आपके साथ लगाव नहीं रखेगी। ऐसी स्त्री पति और परिवार की बजाए धन और गहनों से ज्यादा प्रेम करती है। लालच किसी भी इंसान को अंधा बना देता है और इसी कहावत के आधार पर ही स्त्रियां भी कुमार्ग पर चलने लगती है। इसलिए आचार्य चाणक्य जी ने धन की लालसा रखने वाली स्त्री से शादी न करने की सलाह दी है।

यदि आप भी भविष्य में शादी के लिए लड़की ढूंढने वाले हैं तो आपको आचार्य चाणक्य की इस सलाह पर अवश्य अमल करना चाहिए। यह न केवल आपको सही स्त्री ढूंढने में मदद करेगी अपितु आपका आने वाला कल भी सुखमय होगा।

3 comments

  • Pradeep panja

    January 2, 2022 at 7:53 am

    Hello dear sir madam subject merrage I am from now Kolkata India hindu working electronic PC designer par manth approx 40000 to 60000/- income inter caste no matter divorce yes heater yes baby yes my age 48yer old height 5’8″ please send me the message email [email protected] 🙏

  • BHARAT

    January 8, 2022 at 2:27 am

    9998804701 live in relationship ke liye 30 sal se 50 sal Tak Chali